Thursday, 22 August 2013

कुछ बुझते से ख्याल
गाँठ -पोटली ले
तुम्हारे शहर पहुंचे हैं
कंही कोई सराय हो
टिका देना!!!!

1 comment: